इंडियन आईडल के कंटेस्टेंट “सवाई भाट” को मजबूरी में गरीबी में गुजारनी पड़ रही है जिंदगी, हालात है बिल्कुल ख़राब

इंडियन आइडल भारत देश में काफी ज्यादा पॉपुलर शो है। इसे हर वर्ष काफी ज्यादा रेटिंग भी मिलती है। जब भी इसका नया सीजन आता है इसे लोग काफी ज्यादा उत्सुकता से देखते हैं और इसके हर एक खिलाड़ी को काफी ज्यादा प्यार मिलता है। लेकिन आज हम आप सभी लोगों को एक ऐसे कंटेस्टेंट की कहानी सुनाने वाले हैं। जिन्होंने एक बार फिर से उसी गरीबी में जीने को मजबूर हो चुके हैं। आखिर उनके पीछे क्या कारण है इसके बारे में हम आप सभी लोगों को पूरे विस्तार से बताने वाले हैं जिसे जानने के लिए आप सभी लोगों को इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना होगा।

सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल 12 काफी अधिक सुपरहिट साबित हुआ। अगर हम इस सीजन के टॉप 6 कंटेंस्टेंट्स की बात करें तो इसमें पवनदीप राजन, अरूणिता कांजीलाल, सायली कांबले, दानिश मोहम्मद, निहाल ताउरो और सन्मुख प्रिया का नाम आता है।

यह सभी कंटेस्टेंट्स अपने सपने को साकार कर रहे हैं। इस समय पवनदीप राजन, अरूणिता कांजीलाल, सायली कांबले और दानिश मोहम्मद विदेश में कई लाइव शो में हिस्सा ले रहे हैं।

इंडियन आइडल के इस सीजन के बाद से लगभग हर एक कंटेस्टेंट को ज्यादा पापुलेटिंग मिली और उन्होंने इंडस्ट्री में अपना नाम बना दिया। लेकिन कहीं ना कहीं सवाई भाट एक ऐसे कंटेस्टेंट थे जिनका नाम धीरे-धीरे लोग भूलते जा रहे हैं। उनकी किस्मत से सब कुछ धीरे-धीरे बदलता चला जा रहा है। जी हां हम बिल्कुल उसे कंटेस्टेंट की बात कर रहे हैं जिसके गाने सुनने के लिए लोग बेताब रहते थे और उसे इंडियन आइडल का सबसे अच्छे कंटेस्टेंट में से एक माना जाता था ट्रॉफी जीतने के लिए।

इन्होंने इंडियन आइडल के शो में से लेकर खूब नाम और शोहरत तो कमा ली लेकिन आज इनकी हालत बद से बदतर हो गई है यह अपनी जिंदगी गरीबी में गुजारने को मजबूर है और एक बार फिर से उसे जिंदगी में वापस लौट चुके हैं जहां वहां पहले थे भले ही दवाई भट्ट ने अपने आवाज से सभी दर्शकों को अपना दीवाना बना लिया परंतु इतनी ज्यादा लोकप्रियता हासिल करने के बाद भी उनके जीवन में ज्यादा कुछ बदलाव नहीं आया और उनके जीवन कुछ इसी प्रकार का है।

+