कांग्रेस से दिया नवजोत सिंह सिद्धू ने इस्तीफा! कहा की समझौता नहीं करुँगा

पंजाब की सियासत में कांग्रेस के खेमे में काफ़ी समय से उथल-पुथल मची हुई है। इसकी शुरुआत नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब में कांग्रेस अध्यक्ष बनने के साथ हुई। जिस पर पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भड़क गए। आई थी दोनों के बीच बहस की खबर। इस बीच, तथापि, नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष घोषित किया गया था। जिसके बाद यह अनुमान लगाया गया कि वहाँ पंजाब की राजनीति में उथल-पुथल होगी। क्योंकि कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच कभी मेल नहीं लगा।

 

बहुत मेहनत के बाद आखिरकार नवजोत सिंह सिद्धू बने कांग्रेस पार्टी के पंजाब अध्यक्ष । जैसा कि अंदेशा था कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटा दिया जाएगा। यह वही। इसके बाद ये भी कयास लगाए जाने लगे कि पंजाब के नए मुख्यमंत्री के तौर पर नवजोत सिंह सिद्धू को कमान मिल सकती है। ऐसा लग रहा था कि इसकी पूरी संभावना है। लेकिन कांग्रेस के आलाकमान ने एक अलग फैसला लिया और नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने के बजाय उनकी जगह चरणजीत सिंह चुन्नी को मुख्यमंत्री घोषित किया गया। ऐसे में कहीं न कहीं ये बातें सामने आ रही थीं कि नवजोत सिंह सिद्धू इस बात से नाराज हैं।

 

नवजोत सिंह सिद्धू के अध्यक्ष पद से इस्तीफे के बाद यह साफ हो गया है कि कहीं न कहीं नवजोत सिंह सिद्धू इस बात से खासे नाराज रहे हैं। उन्होंने हाल ही में राष्ट्रपति बनने के लिए कड़ी मेहनत की थी। लेकिन कुछ दिनों बाद उन्होंने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने इसके बारे में सोनिया गांधी को पत्र लिखा था। जिसमें उन्होंने लिखा था कि किसी के भी पतन की शुरुआत उसकी सहमति से होती है। इसलिए मैं पंजाब के विकास से समझौता नहीं कर सकता। वह कांग्रेस की सेवा करते रहेंगे लेकिन अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *