कोर्ट ने कहा केवल “सात फेरों” वाली शादी होगी मानीय ,इसके अलावा जिसने भी लव मैरिज करी उस पर होगा……….

आजकल ज्यादातर युवाओं के बीच में यही देखा जा रहा है कि उन्हें लव मैरिज करना ज्यादा पसंद आ रहा है क्योंकि लव मैरिज के अंदर आप अपने होने वाले जीवन साथी को अच्छी तरीके से समझ लेते हो और परत लेते हो उसके बाद ही आप शादी करते हो लेकिन अरेंज मैरिज में ऐसा कुछ नहीं होता इसमें आपको अपने जीवन साथी को शादी के बाद जानने का अवसर प्राप्त होता है और ऐसे में ज्यादातर यार देखा जाता है कि पारिवारिक अनबन के चलते उनका रिश्ता ज्यादा दिन तक नहीं चलता और मनमुटाव पैदा होने लगते हैं।

कोर्ट ने सुनवाई के बाद खारिज की याचिका

शासकीय अधिवक्ता दीपक खुद ने इस याचिका का विरोध किया है हमारे सूत्रों से यह खबर आ रही है कि उन्होंने कहा है कि याचिकाकर्ताओं ने इसके लिए किसी भी थाने में आवेदन नहीं किया है उन्हें किससे खतरा है और उन्हें किसने धमकी दी है और इस बात से कौन परेशान है यह भी पूर्ण रूप से बात सामने नहीं आई है कि आखिर में अंत में मतलब क्या है क्योंकि किसी को असल बात अभी तक नहीं पता है इसलिए याचिका सुनवाई योग्य नहीं लगती और कोर्ट में दाखिल खारिज करते हुए कहा कि याचिका खारिज कर दी जाती है।

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि यदि इस याचिका को खारिज किया जाता है क्योंकि इसमें एक भी ऐसा साक्ष्य प्रस्तुत नहीं किया जा सकता जिसके वहां पर हम कोई निर्णय दे सके प्रेमी प्रेमिका को धमकी मिली है या पुलिस ने उन पर जोर जबरदस्ती करी है इसका बात खुलकर अभी तक सामने नहीं आई है गौरतलब इस बात पर है कि मुरैना निवासी 23 साल के लड़के ने 21 साल की लड़की के साथ 16 अगस्त को ग्वालियर के लोहा मंडी किला गेट स्थित आर्य समाज मंदिर पर लव मैरिज करी थी लेकिन आर्य समाज मैरिज का सर्टिफिकेट भी दिया इसके बाद दोनों ने हाईकोर्ट में अपनी सुरक्षा के लिए याचिका दायर की जिसके बाद से यहां शुरू हो गया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *