पति ने संभाली रसोई ,तो पत्नी ने मेहनत कर किया आईएएस अधिकारी बनने का सपना पूरा………….

भारत देश में यूपीएससी की परीक्षा है जिसे सबसे कठिन परीक्षा में से एक माना जाता है और हर वर्ष लाखों अभ्यार्थी इस परीक्षा को देने का प्रयास करते हैं लेकिन उनमें से केवल कुछ ही लोग ऐसे होते हैं जो अपने सपने को साकार कर पाते हैं और आईएएस अधिकारी बन पाते हैं। आज हम आप सभी लोगों को एक ऐसी लड़की की कहानी सुनाने वाले हैं जिन्होंने बिना किसी कोचिंग की मदद से अपने सपने को साकार किया और लाखों लोगों के लिए प्रेरणा का जरिया बन गई।

आज हम आप सभी लोगों को आईएएस अधिकारी के बारे में बताने वाले हैं उन्होंने अपनी तैयारी के दौरान नौकरी भी नहीं छोड़ी और टाइम मैनेजमेंट के साथ अपनी सभी चीजें करी और इस परीक्षा में पास हो गई काजल एक विवाहित स्त्री हैं इसके अलावा तैयारी कर रही थी तो वह नौकरी करने दी जाती थी इसी दौरान परिवारों नौकरी की जिम्मेदारी संभालना मुश्किल से कम नहीं होता लेकिन इसमें उनकी मदद करें उनके पति ने। उन्होंने नौकरी करते हुए और परिवार को संभालते हुए इस परीक्षा में सफलता हासिल करें।

हरियाणा के शामली की रहने वाली काजल ज्वाला एक मध्यमवर्गीय परिवार से ताल्लुक रखती हैं और उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई शामली से ही पूरी कर ली और हाई स्कूल इंटरमीडिएट में उन्होंने अच्छे अंक अर्जित करें जिसके बाद से उन्होंने निर्णय कर लिया था कि वह बड़े ऊपर एक आईएएस अधिकारी बनेगी लेकिन परिवार में उनकी शादी जल्दी कर दी। जिसके कारण उन्हें लग रहा था कि उनका सपना पूरा नहीं हो पाएगा लेकिन उनका ससुराल इतना सपोर्ट करता था कि उन्होंने दोबारा से अपने सपने को जीने का प्रयास किया और दिन भर मेहनत कर अपने सपने को साकार कर लिया। आज काजल अनेकों लड़कियों के लिए प्रेरणा बन चुकी है जिनकी जल्दी उम्र में शादी हो जाती है और वह अपने सपने को जीना छोड़ देती है।

+