पिता ने ठेले पर चाय बेचकर बेटे की पढ़ाई कराई बेटे ने IAS अफसर पर दिल आया सम्मान…………

जभी भी कोई भी व्यक्ति अपने जीवन में सफल होता है तो उसके लिए उसके जीवन में कई लोगों का हाथ होता है और उसको उत्तर पता तक पहुंचने के लिए अनेकों प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है और हर एक व्यक्ति की सफलता के पीछे कुछ ना कुछ स्टोरी वाली कहानी तो अवश्य ही होती है। आज हम आप सभी लोगों को आईएएस और स्वामी के बारे में बताने वाले हैं जिन्होंने अपने बचपन में अनेकों प्रकार की दिक्कतों का सामना किया लेकिन कभी भी हार नहीं मानी और एक आईएएस अफसर बनने के बाद अपने माता-पिता को गौरवान्वित कराया और समाज में सम्मान दिलाया।

वहां एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं जिनके पिता रेडी लगाकर अपना गुजारा करते थे और घर का खर्चा उठाया करते थे और उन्होंने देश के सबसे कठिन परीक्षा में से एक यूपीएससी परीक्षा में सफलता हासिल की एक अच्छी तरह कलाकार अपने भविष्य को उज्जवल किया और अपने माता-पिता को एक सम्मान दिलाया राजस्थान के भिवानी जिले के दादरी के रहने वाले परिवार से ताल्लुक रखते हैं और उनके पिता का नाम अशोक सोनी है उनके पिता ने उठाया था हलवाई की दुकान में काम किया करते थे और कुछ पैसे अर्जित कर अपने घर कर कर चलाया करते थे जिसके बाद उन्होंने धीरे-धीरे पैसे इकट्ठे कर एक रेडी की दुकान लगाने के बाद वहां पर अपना खर्चा चलाने लगे उनका घर खर्च ज्यादा होने की वजह से उन्हें कई प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ता था लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी हम आप सभी लोगों को यह अवश्य बता देते हैं कि सौरव ने केवल 3 माह की पढ़ाई करने के बाद भी कठिन परीक्षा को निकाला है और एक सफलता अर्जित कर दी है क्योंकि इस परीक्षा को पास करने के लिए लोगों से प्रयास करते हैं तब जाकर उन्हें इस मुकाम पर बैठने का मौका मिलता है।

+