समाजवादी पार्टी से रिश्ते रखने वाले “पीयूष जैन” के घर आईटी का छापा पड़ा, कैश देखकर लोगों की आंखें खुली रह गई

हमें उम्मीद है कि आप सभी लोगों ने अपने जीवन में कभी ना कभी फिल्म रेड अवश्य देखी होगी जिसमें अजय देवगन ने बहुत ही ज्यादा अद्भुत अभिनय करते हुए लोगों का दिल जीत लिया था और उस फिल्म में जो सच्चाई दिखाई गई थी कुछ उसी प्रकार की घटना एक बार फिर से देखने को मिली जहां पर शिवजयंती घर में इतनी बड़ी मात्रा में लगनी मिली जिससे कि पूरे महकमे के होश उड़ गए।

अब हम आप सभी लोगों को बताते हैं विस्तार से आंखें पूरी बात क्या है और क्यों इस पर इतना ज्यादा विवाद छिड़ा हुआ है। पीयूष जैन का परफ्यूम का बड़ा कारोबार है। अभी उनके बारे में कई खबरें लिख रही हैं कि उन्होंने अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी का परफ्यूम बनाया है और लॉन्चिंग के दौरान वे वहां मौजूद भी थे. बता दें कि रिश्तेदार पम्मी जैन अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी की एमएलसी हैं. परफ्यूम कारोबारी पीयूष जैन कन्नौज के रहने वाले हैं। उनका इत्र का कारोबार कन्नौज से चलता है।अभी तक उनकी पार्टी से कोई सीधा संबंध सामने नहीं आया है।

अभी कुछ दिनों पहले की बात है कि आनंदपुरी में उनके घर और प्रतिष्ठान में पड़ी छापेमारी के दौरान सरकार को इतने ज्यादा नकदी की बरामदगी हुई ,कि उनके होश उड़ गए और जब सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीरें और असली खबर वायरल होने लगी तो लोगों को यकीन नहीं हो रहा था। कि आखिर एक इत्र कारोबारी के पास इतनी ज्यादा रकम कैसे आ सकती है और वह इतना अमीर कैसे हो सकता है अपने जीवन में।

पीयूष जैन अपने क्षेत्र में एक बड़े परफ्यूम का कारोबार करते हैं। जिससे कि उनको अपने शहर में विशेष प्रकार की पहचान मिली हुई है और सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार उन्होंने अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी का परफ्यूम बनाया था। इसके साथ ही वह उसकी लॉन्चिंग के दौरान भी वह पर समारोह में मौजूद थे। इसके साथ ही साथ हम बता देते हैं कि रिश्तेदार पम्मी जैन अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी में एमएलए भी हैं।

जिसे कारण इस बात को अब सियासी रूप देने की कोशिश करी जा रही है और उनकी विपक्षी सरकार है बीजेपी और कांग्रेस उन पर तरह-तरह के आरोप लगा रही है। लेकिन अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी के लिए उसका जवाब देना बेहद मुश्किल होता जा रहा है। वहां अपने ही प्रश्नों में उलझते चले जा रहे हैं और सबसे ज्यादा हैरान कर देने वाली बात यह है कि एक छोटे से परफॉर्म कारोबारी के पास इतनी ज्यादा मात्रा में नकदी मिली जिसका के कभी कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता था।

+