सुखद खबर हरियाणा और दिल्ली एनसीआर के लिए अब इलेक्ट्रिक किट लगने के बाद सरपट दौड़ेंगे 10 साल पुराने वाहन भी…………

यह बात आप सभी लोगों को पता होगी कि दिल्ली और हरियाणा जैसी जगहों पर 10 साल पुराने वाहनों पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया जा चुका है 10 साल से पुराने वाहनों को चलने पर प्रदूषण काफी ज्यादा होता है जिससे कि इन क्षेत्रों में प्रदूषण के कारण लोगों को काफी प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इसीलिए सरकार ने इन सभी को वाहनों पर रोक लगा दी है लेकिन एक ऐसी खबर आज हम आपको बताने वाले हैं जिसे सुनने के बाद शायद आप लोगों को भी खुशी होगी क्योंकि कुछ इसी प्रकार की खबर हम आप सभी लोगों को सुनाने वाले हैं।

इलेक्ट्रिक किट निर्माता कंपनियों से संपर्क

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने घोषण कर दी है कि पुराने डीजल वाहनों को इलेक्ट्रिक किट के साथ दोबारा इस्तेमाल किया जा सकता है. ट्रांसपोर्ट विभाग सामान्य इंजन से चलने वाली कारों में इलेक्ट्रिक किट लगाने वाली निर्माता कंपनियों से संपर्क में है ताकि इन वाहनों को इलेक्ट्रिक बनाया जा सके. ये रेट्रोफिटिंग कराने के बाद अगले 10 साल के लिए पुराने डीजल वाहनों को दिल्ली में चलाया जा सकेगा. ये खबर दिल्ली में 10 साल पुराने डीजल वाहन मालिकों के लिए बड़ी राहत बनकर आई है.

बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार ने कई प्रकार के कदम उठाए हैं जिसे लोगों ने भी काफी समर्थन दिया है इलेक्ट्रॉनिक कमर्शियल वाहनों को नो एंट्री के समय भी राजधानी की करीब ढाई सौ सड़कों पर चलने की अनुमति दे दी और गहलोत ने आगे कहा कि हलके इलेक्ट्रिक कमर्शियल वाहनों के लिए अच्छी खबर है और लोगों को इससे काफी फायदा भी होगा आने वाले समय में हमने जब से ही नीति लांच की है इससे इलेक्ट्रॉनिक वाहनों की मांग 90 फ़ीसदी बढ़ गई है और लोग बढ़-चढ़कर इस मुहिम में हिस्सा ले रहे हैं और इलेक्ट्रिक वाहनों को खूब बढ़ावा दे रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.