हरियाणा सरकार ने घटाई “शराब पीने की उम्र”, इस वजह से लिया इतना बड़ा फैसला?

यह बात तो आप सभी लोगों को पता होगी कि शराब पीने का खरीदने की उम्र को लेकर हमेशा से ही बातचीत चली आ रही है। यह एक ऐसा वाद-विवाद है ,जो कभी खत्म नहीं होता और अब एक बार फिर से इस बात पर चर्चा काफी तेज हो गई है। जिसके बारे में आज हम आप सभी लोगों को बताने वाले हैं। आखिर इसके पीछे हरियाणा सरकार ने ऐसा क्या नियम उठाई है ,जिससे कि लोगों को ऐतराज हो रहा है और कुछ लोग इसे सही मान रहे हैं।

हरियाणा सरकार ने थोड़े फेरबदल करते हुए आदेश जारी करते हुए कहा है कि अब राज्य में 21 साल के युवा भी शराब खरीद व पी सकेंगे। हम आप सभी लोगों को बताना चाहते हैं कि यह विधेयक 2021 में पारित किया है। जिससे कि कुछ लोगों को इस बिल से बहुत ज्यादा एतराज है। इन सभी बातों के साथ-साथ लोगों का कहना है ,कि इससे हमारी नौजवान पीढ़ी पर बुरा प्रभाव पड़ेगा और इसका असर हमें अपने भविष्य में दिखेगा जिसका अंदेशा कुछ विशेषज्ञ अभी से लगाना शुरू कर दिए हैं।

कुछ लोगों का मानना है कि यहां बिल बिल्कुल भी अच्छा नहीं है और इससे भी आने वाले समय में पूरे भारत में लोगों को काफी बुरा प्रभाव पड़ने वाला है। इस विधेयक में कहा गया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली ने भी हाल ही में आयु सीमा को घटाकर 21 साल कर दिया है। वहीं आज के दौर की सामाजिक-आर्थिक परिस्थितियों में उस समय से काफी बदलाव आया है। जब उपरोक्त प्रावधानों को आबकारी अधिनियम में शामिल किया गया था। आज के लोग अब अधिक शिक्षित हैं। ऐसे में युवा वर्ग भी जिम्मेदार तरीके से शराब का सेवन करने के मामले में सही फैसला ले सकते हैं।

हम आप सभी लोगों को बताना चाहते हैं कि इससे पहले इस प्रदेश में शराब खरीदने और पीने या फिर बेचने की उम्र 25 साल से अधिक थी। विधानसभा पटल में इस विधेयक को लेकर सीएम मनोहर लाल खट्टर सरकार ने अपनी बात स्पष्ट रूप से सामने करी जिसके बाद से ही सारा मसला खड़ा हुआ। इस विधेयक में कहा गया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली ने भी हाल ही में आयु सीमा को घटाकर 21 कर दिया है। इसी के तर्ज पर अब हम भी यही करना चाहते हैं।

उनका मूल रूप से कहना था कि तब की और अब की आर्थिक और सामाजिक स्थिति में काफी ज्यादा बदलाव आ चुका है। इस बदलाव की आवश्यकता काफी समय से सामने निकल कर आ रही थी। उनका कहना था कि आज के सभी युवा अधिक शिक्षित है और वह अपनी जिम्मेदारियां खुद उठाना जानते हैं। उन्हें यहां पता है कि उनके लिए भविष्य में क्या सही होगा और वर्तमान में क्या चीज सही हो सकती है।

+