उत्तर प्रदेश के अभिनव सिंह बने भारतीय सेना में अफसर, गांव में है ख़ुशी का माहौल

आज हम आपको उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के नरायनपुर विकास खंड  के फत्तेपुर, पुरुषोत्तमपुर गांव के निवासी अभिनव सिंह की कहानी बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के दम पर आज सेना में अफसर का पद हासिल कर लिया है| उनके भारतीय सेना में बतौर लेफ्टिनेंट चयन होने से पूरे परिवार वा गांव में ख़ुशी का माहौल है, और सबका नाम रोशन करने पर उनको ढेरों ढेरों आशीष मिल रहे हैं|

कठिन परिश्रम के दम पर अभिनव सिंह बने आर्मी में लेफ्टिनेंट

उत्तर प्रदेश निवासी अभिनव सिंह को बचपन से ही पढ़ने लिखने में काफी दिलचस्पी थी| वह मेहनत से कभी कतराते नहीं थे, और यह सबसे अहम कारण था की उनका दाखिला सैनिक स्कूल में हुआ और छठीं से बारहवीं तक की शिक्षा उन्होंने उत्तराखंड स्थित सैनिक स्कूल घोड़ाखाल से प्राप्त की। इससे पहले अपने प्राथमिकी की शिक्षा उन्होंने वाराणसी के एक प्राइवेट स्कूल से हासिल की|

मिर्ज़ापुर के अभिनव सिंह के लेफ्टिनेंट बनने पर गांव में ख़ुशी का माहौल

अपने इंटर की पढ़ाई पूरी करने के बाद वे अपने स्नातक के लिए भारत के श्रेष्ठ सैन्य तकनीकी संस्थान मिलीट्री कालेज आफ टेली कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग महू मध्य प्रदेश गए और वहां से अपने स्नातक की डिग्री हासिल की। इन्होंने टेक्निकल एंट्र् स्कीम के तहत कोर्स 37 में प्रवेश लिया था। इसके बाद मिलिट्री ट्रेनिंग के लिए 2017 में इन्होंने आफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी ज्वाइन किया था।

पुरुषोत्तमपुर गांव निवासी राजकुमार सिंह के तीन बच्चे हैं| तीनो भाई-बहन में अभिनव सिंह सबसे छोटे हैं | अपनी कड़ी मेहनत के दम पर आज अभिनव सिंह ने अपने सपनों को पूरा कर लिया है| इसी ख़ुशी के मौके पर अनिल सिंह, डा रश्मी सिंह,अक्षय सिंह,गोविन्द शंकर ओझा, संजय मिश्रा, डा अजीत सिंह, डा भगवान दास सिंह, अभिषेक सिंह, राम आसरे सिंह, डा सीबी तिवारी आदि ने उन्हें ढेरों बधाई दी है, और जीवन में खूब तरक्की करने का आशीष दिया है| बेटे के लेफ्टिनेंट बनने से पूरा परिवार और गांव बहुत खुश हैं, और सब यही बोल रहे हैं, की अभिनव ने सबका सिर फक्र से ऊँचा कर दिया है|

+