यू.पी. : जयमाल के बाद दूल्हे की शक्ल देख भड़की दुल्हन, बोली ना लहंगा लाए और ना ही हार, तो क्यों आये मेरी चौखट पर लेकर बरात

खबर उत्तर प्रदेश के बरेली डिस्ट्रिक्ट की है जहां से एक बारात जयमाला होने के बाद वापिस लौट गयी| बताया जा रहा है की जयमाला हो चुकी थी और अब बस सात फेरे ही होने बाकी थे, लेकिन दुल्हन ने जैसे ही देखा की दूल्हा सांवला है उसने तुरंत शादी से इंकार कर दिया और लाख समझने पर भी नहीं मानी|

दुल्हन ने किया जयमाला के बाद शादी से इंकार, बोली ना ही लहंगा लाये न ही हार

मामला बरेली जिले के भोजीपुरा थाना क्षेत्र का है, जहां एक गांव का युवक जो कि इंटरमीडिएट पास था और अब वह आईटीआई कर रहा था, उसके परिजनों ने उसका विवाह हाफिजगंज थाना क्षेत्र के एक गांव की युवती जो की इंटरमीडिएट पास थी, उससे तय कर दिया | शादी तय होने के बाद गुरुवार को वह बारात लेकर दुल्हन के घर पहुंचा, और दुल्हन पक्ष ने उनकी खूब खातिरदारी करी और और स्वागत किया|

फिर जब जयमाला हो गयी तो दुल्हन को पता चला की उसका होने वाला पति सांवला है तो उसने तुरंत शादी करने से मना कर दिया| जब उसे पूछा गया की वह ऐसा क्यों कर रही है तो उसने बहाना बनाते हुए बोलै की ना तो लेहेंगा लाये और ना ही हार, तो क्यों आये हमारी चौखट पर लेके बारात| ये सुनकर सभी हैरान हो गए और उसे समझने लगे लेकिन उसने एक न सुनी| फिर उसकी ज़िद्द से हारकर दूल्हा पक्ष उसकी बातें मानने को तैयार हो गया और उसे हार वा लहंगा दिलाने को हां बोल दिया|

लेकिन मसला लहंगे का नहीं बल्कि दूल्हे के रंग का था, जब वे उसकी ज़िद्द पूरी करने को तैयार हो गए तब भी दुल्हन नहीं ,मानी और असली कारण बता दिया की क्योंकि लड़का सांवला है इसीलिए वह यह शादी नहीं करेगी| और जब परिजनों ने समझाया तब भी उसने उनकी एक बात न सुनी|

खाली हाथ लौटी बारात

जब दुल्हन सात फेरों के लिए बिलकुल नहीं मानी तो दोनों पक्ष सेंथल चौकी गए और वहां जाकर रिश्ता खत्म करने की बात लिखकर दे दी और फिर बारात वापिस लौट गयी| दूल्हे के परिजनों ने यह आरोप भी लगाया था की दुल्हन वाले सोने का हार और लहंगे की मांग कर रहे हैं। दूल्हे से शादी करने से इंकार करने के बाद दुल्हन ने शादी का जोड़ा भी उतार दिया। लोगों ने उसे काफी समझाया लेकिन वह उससे शादी करने के लिए बिलकुल तैयार नहीं हुई।

 

+