यू.पी. : एक वृद्ध आदमी लाया 80 हज़ार रूपये देकर दुल्हन, शादी के चार दिन बाद ही दुल्हन फरार

खबर उत्तर प्रदेश के बागपत जिले की है जहां एक वृद्ध आदमी ने 80 हज़ार रूपये देकर एक महिला संग ब्याह रचाया था| लेकिन शादी होने के चौथे ही दिन वह महिले उस वृद्ध को चकमा देकर रफू चक्कर हो गयी| पीड़ित वृद्ध ने उस पर धोके से पैसे एठने का मुकदमा दर्ज कराया है|

एक महिला ने एक वृद्ध संग 80 हज़ार रूपये के लिए रचाई शादी, लेकिन हुई चौथे ही दिन फरार

सूत्रों से पता चला है की बागपत में एक 65 वर्षीय वृद्ध रहता था| वह घर में अकेला था और बीमार भी रहता था| मेरठ के ग्राम रासना निवासी यामीन ने करीब एक माह पूर्व वृद्ध को शादी करने के लिए फंसाया और कहा की मेरी पत्नी रानी कुरुक्षेत्र, हरियाणा की है और वह एक महिला को जानती है और वह उससे तुम्हारी शादी करा देगी। इस बात पर वृद्ध शादी के लिए राज़ी हो गया| शादी करने के लिए वृद्ध ने उनको 80 हज़ार रूपये भी दिए और फिर ब्याह कर उसे अपने साथ अपने घर में ले आया |

पीड़ित वृद्ध इस बात से अनजान था की शादी के एवज में उसे लूटा जा रहा है

वृद्ध इस बात से बिलकुल बेखबर था की जो उसके शुभचिंतक बन रहे हैं वे दरअसल उसे लूटने के लिए एक जाल बुन रहे हैं| 60 वर्षीय इस महिला से शादी करवाने के लिए उन्होंने वृद्ध से 80 हजार रुपये की डिमांड की। क्योंकि पीड़ित अकेला रहता था और बीमार भी था तो यह सोचकर की उसे एक साथी मिल जायेगा, वह उनके बहकावे में आ गया और उनकी डिमांड पूरी करने के लिए बैंक से रुपये निकालकर आरोपियों को दे दिए। फिर 28 जून को जयमाला डालकर शादी की रस्म पूरी करवाई गयी, और इस संबंध में दस्तावेज भी तैयार कराए गए। इसके बाद वह उस महिला को ब्याहकर अपने घर ले आया ।

लेकिन क्योंकि ये सारा नाटक उस वृद्ध को लूटने के लिए रचा गया था तो एक दिन (02 जुलाई को) उसकी पत्नी ने हाथ में दर्द की शिकायत की, और इसके बाद वह वृद्ध उसे एक निजी अस्पताल में लेकर गया| वह जब अस्पताल में थे तो वह थोड़ी देर के लिए पानी लेने के लिए बाहर गया था और जब लौटा तो वहां उसे उसकी पत्नी नहीं मिली| उसने काफी खोजबीन की लेकिन कही से भी उसका कोई पता नहीं चल पाया|

अब तक क्योंकि वह समझ चुका था की उसके साथ धोखा हुआ है और यह सब सिर्फ उसे लूटने के लिए था तो वृद्ध ने दो महिलाओं सहित चार आरोपियों के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। इनमें एक आरोपी मेरठ क्षेत्र का रहने वाला है। कोतवाली एसएसआई संजय कुमार का कहना है कि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा चुका है और विवेचना के आधार पर इस पूरे मामले में कार्रवाई की जाएगी।

+