यू.पी. : घरेलू विवाद में आक्रोशित पति ने चलाया पत्नी पर कुदाल, गोद में सो रही नौ माह की बेटी की मौत

खबर उत्तर प्रदेश के बलिया डिस्ट्रिक्ट की है यह घरेलु जाहगदे ने एक नौ माह की मासूम बच्ची की जान ले ली| बलिया के बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के पर्वतपुर गांव में बुधवार की सुबह घरेलू विवाद से गुस्साए पति ने अपनी पत्नी पर कुदाल से वार किया, उस वक़्त पत्नी की गोद में उनकी नौ माह की बच्ची सोई हुई थी| जैसे ही गुस्साए हुए पति ने वार किया, वह कदाल बच्ची के सिर में लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गयी|

घरेलु विवाद ने ले ली नौ माह की मासूम की जान

पुलिस सू्त्रों के अनुसार पर्वतपुर गांव निवासी जितेन्द्र बिन्द और उसकी पत्नी रंजू की किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। बात इतनी ज़्यादा बढ़ गयी की गुस्से से बौखलाए जितेन्द्र ने फावड़ा उठाया और पत्नी रंजू पर वार कर दिया| पत्नी रंजू तो बच गयी लेकिन उसकी गोद में सो रही उसकी नौ साल की मासूम बच्ची के सिर पर वह फावड़ा लग गया और वह इतनी गंभीर रूप से घायल हुई की उसे बचाया नहीं जा सका और उस मासूम ने मौके पर ही अपने प्राण त्याग दिए| हमला करने के बाद उसका पति जितेन्द्र फरार हो गया| हालाँकि पुलिस ने उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर दी है और उसे हर जगह तलाशा जा रहा है और यही उम्मीद है की वह जल्द से जल्द पकड़ा जायेगा और उसे उसके किये की सज़ा मिलेगी|

बच्ची का चेहरा याद कर बार बार बेहोश हो रही है उसकी माँ रंजू

रंजू अपनी बच्ची को फावड़ा लगने के बाद जैसे तैसे चिकित्सालय पहुंची| पर उसके ज़ख्म इतने घेहरे थे की उसे मृत घोषित कर दिया गया| रंजू ने बताया की उसके पति ने उसकी जान लेने की नियत से यह फावड़ा चलाया था लेकिन इसमें उसकी बच्ची की जान चली गयी| एकदम से रंजू के हाथ से उसका सब कुछ निकल गया। उसने हिम्मत जुटाई और अपने पति के खिलाफ अपनी बेटी का मारने का मुकदमा दर्ज करवाया|

जिस माँ की गोद में उसकी नन्ही बच्ची ने दम तोड़ दिया, आज वह जिला अस्पताल में अपनी बच्ची को याद कर करके रोई जा रही है और बार बार बेहोश हो रही है| आराेपित पति अपनी पत्नी से अक्सर झगडे किया करता था और उसकी पिटाई भी करता था। लेकिन वह चुपचाप अपनी बच्ची के खातिर सब बर्दाश्त करती चली गयी| लेकिन उसे क्या पता था की उसकी यही चुप्पी और सब कुछ बर्दाश्त कर लेना ही उसकी बच्ची की मौत का कारण बनेगा| अब पुलिस से यही उम्मीद की जा रही है की वह जल्द से जल्द उसके गुन्हेगार पति को गिरफ्तार करें और उसे कड़ी से कड़ी सज़ा दें|

+