छठे फेरे के बाद यूपी दुल्हन ने ठुकराई शादी, कहा- ‘नहीं पसंद दूल्हा’

खबर उत्तर प्रदेश के महोबा जिले की है जहां एक महिला ने छह फेरे लेने के बाद शादी करने से इंकार कर दिया, उसका फैसला सुनकर सब चौंक गए| पूरी बात जानने के लिए पोस्ट को आखिर तक पढ़ें|

छठे फेरे के बाद दुल्हन ने किया शादी से इंकार, बोली – नहीं पसंद आया दूल्हा

घटनाओं की एक असामान्य श्रृंखला में, उत्तर प्रदेश के महोबा की रहने वाली एक महिला ने शादी की सभी रस्में पूरी करने के बाद शादी करने से इनकार कर दिया। महिला ने छठे फेरे के बाद शादी रद्द कर दी। हिंदू परंपरा के अनुसार, दूल्हा और दुल्हन एक साथ आग के चारों ओर सात फेरे लेते हैं। ऐसा करने के बाद विवाह पूर्ण माना जाता है। घटना कुलपहाड़ तहसील के एक गांव की है|

दूल्हा और दुल्हन के दोस्तों और रिश्तेदारों दोनों ने उसे शादी के लिए मनाने की पूरी कोशिश की लेकिन उसने अपना फैसला बदलने से इनकार कर दिया। दरअसल मामला इतना तूल पकड़ गया कि आधी रात को पंचायत को मामले में दखल देने के लिए बुलाया गया| उसके बाद भी दुल्हन का फैसला अपरिवर्तित रहा। दूल्हे और उसके रिश्तेदारों के पास वापस जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।

परिवार वालों के मनाने पर भी नहीं मानी दुल्हन

जब दुल्हन से पूछा गया कि उसे उस आदमी से शादी करने में कोई दिलचस्पी क्यों नहीं है तो उसने जवाब दिया कि वह उसे पसंद नहीं करती है। दूल्हे के पिता ने भी चिंता जताते हुए कहा कि अगर दुल्हन शादी के लिए तैयार नहीं थी तो उसने शादी के अन्य अनुष्ठानों जैसे मालाओं का आदान-प्रदान आदि में क्यों भाग लिया।

दुल्हन के शादी के बंधन में बंधने से पहले सभी कार्यक्रम सुचारू रूप से हो चुके थे। दरअसल, शादी में मौजूद मेहमान दूल्हा-दुल्हन के साथ फोटो खिंचवा रहे थे| शादी के दिन किसी तनाव या बहस के कोई संकेत नहीं मिले क्योंकि सभी उपस्थित लोग खुश मिजाज में देखे गए। ऐसे ही उत्तर प्रदेश में कई बार आखिरी समय में शादी रद्द होते हुए देखी गयी है|

Leave a comment

Your email address will not be published.