दिल्ली मेट्रो कैसे करेगी लाखो लोगो की मुश्किल हल!

मेट्रो ट्रेन का यह काम पहले दिवाली से शुरू होना था, लेकिन कोरोना लॉकडाउन और कागजी कार्रवाई के चलते यह योजना लेट होती चली गई. अब इसका काम शुरू होने में 2 महीने का वक्त और लगेगा. मेट्रो ट्रेन शुरू होने से ग्रेटर नोएडा वेस्ट भी दिल्ली-एनसीआर से जुड़ जाएगा. नोएडा में ब्लू लाइन मेट्रो से सीधे कनेक्ट हो जाएगा. अभी तक ग्रेनो वेस्ट के रूट पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा नहीं है. नया मेट्रो रूट करीब 15 किमी का होगा. पहले फेज में 5 मेट्रो रेल स्टेशन बनाए जाएंगे.

लोगो को मिलेगा फायदा!

नोएडा. एक के बाद एक किसी न किसी रुकावट के चलते ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रेल का काम शुरू नहीं हो पा रहा है. जो काम साल 2021 में शुरू हो जाना था, वो करीब 10 महीने लेट हो चुका है. अब जब इस साल अप्रैल में मेट्रो रेल का काम शुरू होने की उम्मीद थी तो एक बार फिर 2 महीने काम लेट हो गया है. केन्द्र सरकार द्वारा मेट्रो की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट में संशोधन कराए जाने के चलते मेट्रो का काम लेट हो रहा है. हालांकि केन्द्र सरकार के मुताबिक डीपीआर में संशोधन कर आज डीपीआर वापस दिल्ली भेजी जा रही है. जानकारों की मानें तो संशोधित डीपीआर पर केन्द्र सरकार की मंजूरी मिलने और दस्तावेजों की कार्रवाई में अब कम से कम 2 महीने का वक्त लगेगा.

क्या है नया प्रोजेक्ट?

गौरतलब रहे नोएडा सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के मेट्रो का रूट 15 किमी का है, लेकिन शुरुआत सिर्फ 5 मेट्रो स्टेशन से होगी. सभी 5 स्टेशन सेक्टर-122, सेक्टर-123, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-4, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-2 और ईकोटेक-12 ग्रेटर नोएडा वेस्ट को आपस में जोड़ेंगे. हालांकि इस पूरे रूट पर 9 स्टेशन तैयार होने हैं. ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो लाइन के शुरू होते ही वेस्ट के सेक्टर ग्रेटर नोएडा की एक्वा लाइन और दिल्ली मेट्रो की ब्‍लू लाइन से भी जुड़ जाएंगे.

Leave a comment

Your email address will not be published.