हो रहे हैं उत्तर प्रदेश की धाकड़ दादी के चर्चे, वाकिंग स्टिक से पीटकर भगाया लुटेरों को, डीजीपी भी हुए फैन

आजकल उत्तर प्रदेश के लखनऊ जिले की धाकड़ दादी खूब वाह वाही बंटोर रही हैं| जिस प्रकार अपना संरक्षण करने के लिए यह धाकड़ दादी लुटेरों से भीड़ गयी और अंत तक हार न मानी, उनके सहस की सब लोग सराहना कर रहे हैं| इतना ही नहीं, उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मुकुल गोयल ने भी जबसे उनके इस साहस के बारे में जाना है, वे भी धाकड़ दादी के फैन हो गए हैं| इतना ही नहीं, उन्होंने दादी का हालचाल जानने के लिए उनको वीडियो कॉल भी किया|

धाकड़ दादी की हिम्मत के हो रहे हैं चर्चे, खूब सबक सिखाया लुटेरों को

दरअसल, लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र के वृंदावन कॉलोनी में रहने वाली 72 साल की देवता वर्मा का कुछ दिन पहले कुछ लुटेरों से आमना सामना हो गया| दादी अपनी एक मित्र के साथ सैर करने निकली थी| उनके पैर में कुछ दिक्क्त है जिस वजह से वह वाकिंग स्टिक का सहारा लेकर चलती हैं| सुबह का समय था और हर रोज़ की तरह वो अपनी दोस्त के साथ सैर कर रही थीं| तभी वहां दो लुटेरे आ गए|

हाथापाई के दौरान दादी को आयी चोट, लेकिन नहीं मानी हार, डीजीपी भी हुए फैन

दादी ने गले में सोने की चेन पहनी थी, जिसे वे उनसे छीनने लगे| यहां तक की हाथापाई में उन्होंने दादी को नीचे भी गिरा दिया, जिससे उनके हाथ में चोट लग गयी| और दादी के नीचे गिरने के बाद वे दोनों फिर उनसे चेन छीनने लगे| लेकिन दादी ने अपने हाथों से कसकर अपनी चेन को पकड़ लिया और वाकिंग स्टिक से दोनों लुटेरों को मारने लगी| दादी ने अपनी हिम्मत के बल पर उन लुटेरों की जमकर पिटाई की, जिसके बाद वो दोनों वहां से अपनी जान बचाकर भागे| इसके बाद लोग भी वहां इकठ्ठा हो गए, लेकिन तब तक दोनों लुटेरे भाग चुके थे|

जैसे ही पुलिस को इस बात की खबर मिली, वे तुरंत मौके पर पहुंचे| पुलिस कमिश्नर भी दादी का हाल चाल पूछने उनके घर पहुंचे| डीजीपी मुकुल गोयल तक जब खबर पहुंची, तो उन्होंने पुलिस अफसरों की एक टीम दादी के घर भेजी और उनसे वीडियो कॉल में बात की| पुलिस की पूरी टीम ने दादी की हिम्मत की खूब तारीफ की, वा उन्हें यह आश्वासन दिया की वे जल्द से जल्द उन दोनों लुटेरों को गिरफ्तार कर लेंगे|

+