यू.पी. : नौकरी परीक्षा के लिए भेजे थे अपनी जगह प्रॉक्सी उम्मीदवार, प्रशासन को पता चला तो जानें क्या हुआ

उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स को पता चला की सरकारी नौकरी की परीक्षाओं को लिए बहुत से उम्मीदवार अपनी जगह अपने प्रॉक्सी उम्मीदवार भेजते हैं| जब उन्हें पता चला की सरकारी नौकरियों को पास के लिए विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में अपने स्थान पर प्रॉक्सी उम्मीदवारों की उपस्थिति करवाते हैं, तो इस रैकेट में शामिल चार के एक गिरोह का भंडाफोड़ किया गया और उनको हिरासत में लिया गया|

अपनी जगह भेजे थे प्रॉक्सी उम्मीदवार, पता चलने पर तुरंत किये गए गिरफ्तार

मंझनपुर थाने के एसएचओ मनीष कुमार पांडे ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में एक राहुल सिंह भी शामिल है, जो विभिन्न परीक्षाओं में परीक्षार्थियों की नकल करके उनकी परीक्षा देता था| यह व्यक्ति इस काम को करने के उम्मीदवारों से ढेरों पैसे लेता है, और इस काम को अंजाम देता है जिसमें वह खुद उनकी जगह पर परीक्षा में बैठता है| अन्य तीन आरोपी जो गिरफ्तार हुए हैं उनके नाम हैं -अभिषेक सिंह, उदय शंकर और पंकज कुमार राय। यह तीनो भी बहुत समय से यही काम कर रहे हैं, जिसमें ये उम्मीदवारों की जगह पर जाकर उनकी परीक्षा देते हैं|

देने जा रहे थे प्रॉक्सी परीक्षा, लेकिन उससे पहले ही हुए बेनकाब

उन्होंने बताया कि चारों को मंझनपुर थाना क्षेत्र के एक कॉलेज के बाहर से गिरफ्तार किया गया| एसएचओ ने कहा कि चारों के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी का मामला दर्ज किया गया है और उनसे इस मामले में पूरी तरह से पूछ टाच की जा रही है, वा इसके अलावा यूपी पुलिस बहार से भी इनके बारे में पूछताछ कर रही है।

एसटीएफ ने लखनऊ में दिए गए एक बयान में इस मामले के बारे में कहा कि ये चरों व्यक्ति ग्रुप बी और ग्रुप सी पदों के लिए यूपी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, लखनऊ द्वारा आयोजित प्रारंभिक पात्रता परीक्षा (पीईटी) -2021 में उपस्थित हो रहे थे। लेकिन वे अपने मकसद में कामयाब हो पाते, इससे पहले ही स्पेशल टास्क फाॅर्स को इस बात की भनक लग गयी, और उन चरों को उस कॉलेज के बाहर से गिरफ्तार कर लिया गया, जहां वे परीक्षा में बैठने वाले थे|

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *