यू.पी. : करता रहे गया रात भर साथ फेरे लेने का इंतज़ार, और दुल्हन का ब्याह हो गया किसी और के साथ

खबर यू.पी. के मथुरा जिले की है, जहाँ शादी के दिन एक युवक रत भर सात फेरों के लिए अपनी दुल्हन का इंतज़ार करता रहा, लेकिन उस दुल्हन की करा दी गयी दूसरे युवक से शादी| खूब गाजे बाजे के साथ वह पहुंचा था अपनी दुल्हन को लेजाने पर हुआ कुछ असा की वह बस इंतज़ार ही करता रहे गया|

करता रहे गया रात भर इंतज़ार, दुल्हन को ले गया कोई और

आपको बता दें की गांव तेहरा निवासी एक व्यक्ति ने अपनी पुत्री का विवाह गांव नगलामनी, मांट के युवक के साथ तय किया था। साड़ी त्यारियां हो चुकी थी, बारात चढ़ चुकी थी, सभी खुश थे, बाराती नाच रहे थे, लेकिन फिर अचानक वधु पक्ष ने शादी रोक दी और निर्धारित समय पर ही अपनी पुत्री का विवाह अन्य पुरुष के साथ करा दिया|

आखिर क्यों वधु पक्ष ने रोक दी शादी

हम सभी जानते हैं की कोरोना काल चल रहा है, और किसी भी समाहरोह में ज़्यादा भीड़ करने की मनाही है, इसे निर्देश के चलते भारत में 30 -35 लोग ही शामिल हुए, लेकिन जब वधु पक्ष ने इतने काम लोगों को बारात में देखा तो वे नाराज़ हो गए और उसी वक़्त ये शादी तोड़ दी, की बारात में बहुत काम लोग शामिल हुए हैं, यह बात सुनकर सन्नाटा च गया| अभी तक जो बाराती नाच कूद रहे थे, खुशियां मना रहे थे वे सभी आश्चर्य में पड़ गए, और वधु पक्ष को समझने लगे पर उन्होंने एक ना सुनी और उनसे शादी तोड़कर किसी अन्य युवक के साथ अपनी पुत्री के फेरे लगवा दिए |

गांव के पूर्व प्रधान करनवीर सिंह ने अपने यहां पर बारातियों के भोजन की व्यवस्था करायी, और उनसे गुज़ारिश की कि आज रात वे वही रुकें| सबको पता चलते ही ये बात पूरे गाओं में चर्चा का विषय बन गयी| फिर उन्होंने अपने पुत्र के लिए एक दूसरी कन्या तलाशना शुरू किया, गांव वालों के सहयोग से उसी गांव कि एक दूसरी कन्या मिली, जो शादी के लिए राज़ी हो गयी| फिर रिश्ता जोड़ते ही उनके घर में शादी कि तैयारियां शुरू कि गयी और पूरे विधि विधान से दोनों कि शादी करवाई गयी| शादी के बाद दोनों पक्षों के चेहरे पर ख़ुशी थी, और बारात दुल्हन को लेकर ही विदा हुई |

+