जानें कैसे उत्तर प्रदेश के एक लेखपाल की बेटी बनी युवा कल्याण अधिकारी

जैसे ही खबर मिली की शैफाली युवा कल्याण अधिकारी बन गयी हैं, पूरे गांव में जैसे ख़ुशी की लहर सी दौड़ गयी| सभी ने शैफाली को आशीष दिया और सभी ने शैफाली के लिए जीवन में खूब तरक्की और जिले का नाम रौशन करने के लिए दुआएं मांगी| सभी ने शेफाली के परिवार को भी बहुत बधाइयां दी|

जानें कैसे लेखपाल की बेटी बनी युवा कल्याण अधिकारी

शैफाली उत्तर प्रदेश के एक साधारण ने परिवार से है, उनके पिता लेखपाल के पद पर हैं| पर जब शैफाली का चयन युवा कल्याण अधिकारी के पद पर हुआ तो उनकी छाती गर्व से चौड़ी हो गयी| बेटी को सफल बनते देख वे बहुत खुश हुए| आपको बता दे की शैफाली को रामपुर में एनआईसी में आयोजित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा ऑन लाइन नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में पैक्स पैड के चेयरमैन सूर्य प्रकाश पाल और सीडीओ गजल भारद्वाज ने नियुक्ति पत्र प्रदान किया । नियुक्ति पत्र पाकर शैफाली, उनके परिवार वा गांव में ख़ुशी की लहर दौड़ गयी। और सब अपने बच्चों को शैफाली की मेहनत की मिसाल देने लगे|

शैफाली के पिता विष्णु शर्मा लेखपाल के पद पर तैनात हैं, जबकि उनकी मां शोभा रानी हेडमास्टर हैं और उनकी एक बहन भी है जो प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका के पद पर तैनात हैं। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से युवा कल्याण अधिकारीयों की नियुक्तियां हुई एंव प्रादेशिक विकास दल विभाग के अर्न्तगत नव चयनित 26 व्यायाम प्रशिक्षकों एंव 508 क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारी एंव प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों का चयन भी किया गया |

अपनी मेहनत के बलबूते पर रामपुर की बेटी ने सबका सिर गर्व से ऊँचा कर दिया

आपको बता दें की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अब तक लगभग 50 नवनियुक्त कार्मिकों को नियुक्ति-पत्र वितरण किये जा चुके हैं और शेष उम्मीदवारों को तत्समय सम्बन्धित जनपदों में एनआईसी में नियुक्ति-पत्र वितरित किये गए | चयनकर्ताओं ने जनपद रामपुर की निवासी शैफाली का चयन क्षेत्रीय युवा कल्याण एंव प्रादेशिक विकास दल अधिकारी के पद पर किया वा उनको नियुक्ति पात्र प्रदान किया, जिनको नियुक्ति पत्र कलेक्ट्रेट स्थित एनआईसी में पैक्स पैड के चेयरमैन सूर्यप्रकाश पाल और सीडीओ गजल भारद्वाज द्वारा सौंपा गया। इस ख़ुशी के अवसर पर वहां जिला युवा कल्याण अधिकारी जय सिंह सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे, और नई नियुक्तियों को खूब शाबाशी भी दी गयी|

 

+