हरियाणा की बेटी बनी भारतीय सेना में अफसर, ऐसे किया माँ का सपना पूरा

माता पिता तो बच्चों के सारे ही सपने पूरे करते हैं, लेकिन जब बच्चे माता पिता के सपने पूरे करते हैं, तो उनका सिर फक्र से ऊँचा हो जाता है| ऐसी ही कहानी है, हरियाणा में रहने वाली सोनाली शर्मा की, जिन्होंने आज भारतीय सेना में अफसर बन अपनी माँ का सपना पूरा कर दिया है| दिल में देशभक्ति की भावना लेते हुए और अपनी माँ का सपना पूरा करने के लिए आज सोनाली इस पद पर पहुंची हैं| उनकी इस सफलता ने उनकी माँ को गौरवान्वित कर दिया है|

आर्मी में अफसर बन सोनाली ने किया माँ का सपना पूरा

आपको बता दें की सोनाली हरियाणा के अंबाला जिले के बराड़ा कस्बे की रहने वाली है। लेफ्टिनेंट बनी सोनाली शर्मा बताती हैं की वह अपनी मां का सपना पूरा करने के लिए इस मुकाम पर पहुंची हैं| सोनाली ने अपनी सातवीं तक की पढ़ाई लंदन से की है| क्योंकि सोनाली के नाना देश सेवा में रहे थे, तो सोनाली की माँ के अंदर भी देशभक्ति की भावना बहुत गहरी थी|

उन्होंने इस देशभक्ति की भावना को सिर्फ अपने तक सीमित नहीं रखा, बल्कि अपनी बेटी को भी देशभक्ति सिखाई, और यही समझाया की सोनाली भी देश सेवा में जाए| यही कारण है की आज सोनाली का चयन बतौर लेफ्टिनेंट भारतीय सेना में हो गया है|

बारहवीं पास करने के बाद ही शुरू की सेना ज्वाइन करने की तैयारी

सातवीं कक्षा के बाद जब सोनाली भारत वापिस आयीं तो उन्होंने मुलाना के एमएम इंटरनेशल स्कूल से बारहवीं की पढ़ाई पूरी की| बारहवीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद तुरंत ही सोनाली ने भारतीय सेना में चयन के लिए तैयारी शुरू कर दी| वर्ष 2016 में सोनाली ने पुणे के आर्म्स फोर्सेज मेडिकल कॉलेज में दाखिला लिया।

आपको बता दें की दाखिले के बाद चार साल उनकी कड़ी ट्रेनिंग चली और इस वर्ष 2021 में पासिंग आउट परेड में बतौर लेफ्टिनेंट उनका चयन भारतीय सेना में हो गया है| सोनाली की पहली पोस्टिंग मेडिकल कोर लखनऊ में हुई है। कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प से आज सोनाली ने अपनी माँ का सपना पूरा कर एक मिसाल कायम कर दी है|

+