रेलवे वाई फाई से करी पढ़ाई और बन गया IAS केरल रेलवे स्टेशन का लाल वर्दी वाला कुली

भारत देश में कई प्रकार के लोग बसे है कोई अमीर तो कोई गरीब। यहाँ किसी को अगर आगे बढ़ना होता है तो ज़िन्दगी की हर मुश्किल को सहना पड़ता है क्युकी यहाँ सहारने वाले काम और दबाने वाले ज्यादा भरे पड़े है। केरल के रेलवे प्लेटफॉर्म पर बैठकर फ्री wifi पर पढ़ाई करनी पड़ी थी इस इंसान को और अब बन गया है आईएएस।

दोस्तों केरल के स्टेशन पर एक कुली ने फ्री wifi की सहायता से पढ़ाई करी। उसके पैसे नहीं थे किताबे खरीदने के लिए लेकिन जो मौजूद था उसी की सहायता ली। और आखिरी में उसे अपनी म्हणत करने का फल मिला। इस कुली के पास न कोई कोचिंग न नोट्स लेकिन सिर्फ अपने सपनो को पूरा करने के लिए करी कड़ी मेहनत। अपना पेट पालने के लिए उसने दिन भर कुली का काम किया, लोगो के भारी बैग, कपडे उठाये और पैसे कमाए। श्रीनाथ केरल के बहुत ही गरीब परिवार में जन्मे है।

इनके परिवार के पास पैसे तो दूर एक सही घर भी नहीं था रहने के लिए। श्रीनाथ ने सिर्फ दसवीं तक पढ़ाई करी थी और उसके बाद वह एनार्कुलम रेलवे स्टेशन पर कुली का काम करने लगे थे। वह अपने परिवार की और अपनी गरीबी को दूर करने की ठान बैठे थे। उन्हें आगे की पढ़ाई करने का भी बहुत शौक था लेकिन अपने परिवार को पालने की ज़िम्मेदारी भी उनके कंधो पर थी।

श्रीनाथ ने बताया कि रेलवे ने फ्री wifi कि शुरुवात हो चुकी थी और यह उनके स्टेशन पर भी उपलब्ध था। श्रीनाथ के पास इससे बड़ा मौका और क्या आता, उन्होंने wifi के ज़रिये ही अपनी पढ़ाई शुरू कर दी। दोस्तों यह कोई आसान काम नहीं था क्युकी दिन भर वह कुली का काम करते थे और फिर थक हार कर घर जाते थे तो ऐसे में पढ़ाई करने का समय और ताकत बटोरना काफी मुश्किल था। श्रीनाथ ने अपने सपने पूरे करने थे तो उन्होंने किताबे भी खरीद ली और मोबाइल तो उनके पास था ही।

फिर वह जब भी स्टेशन पर खाली होते तो वह किताबे पढ़ते या फिर इंटरनेट पर पढ़ाई के वीडियोस को देखते। यही नहीं वह काम करते हुए भी ऑनलाइन लेक्चर सुनते रहते थे जिससे उनका हमेशा पढ़ाई में मन लगा रहता था। अपनी कड़ी मेहनत के बाद भी श्रीनाथ UPSC कि परीक्षा में दो बार असफल हो गए। श्रीनाथ के सपने बड़े थे और हिम्मत उससे भी ज्यादा बड़ी तो उन्होंने फिरसे कोशिश करी और अपनी पढ़ाई जारी रखी।

श्रीनाथने फिर बताया कि वह 2018 KPSC की परीक्षा पास कर चुके है। यह कोई मामूली बात नहीं है क्युकी एक गरीब परिवार का लड़का जो दिन भर कुली का काम करता है उसने देश की सबसे कठिन परीक्षा को पास किया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.