किसान के बेटे को मिला एक बहुत बड़ी कंपनी से 67 लाख का पैकेज, रंग लायी मेहनत

जब कुछ कर दिखने की इच्छा हो, और संकल्प दृढ़ हो, तो कोई भी कार्य ऐसा नहीं है, जो असंभव हो| हाँ हो सकता की आपको कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़े, लेकिन मेहनत एक दिन रंग ज़रूर लाती है, ऐसी की कहानी है अवनीश छिक्कारा की, जिन्होंने कभी किसी मुश्किल को अपने सपनों के आड़े ना आने दिया| उनका सपना था कुछ कर दिखाने का, और उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के बलबूते पर अपनी मंज़िल हासिल कर ली| आइये जानते हैं अवनीश छिक्कारा की सफलता की कहानी|

किसान के बेटे ने कर दिखाया कमाल, एक बहुत बड़ी कंपनी से मिला 67 लाख का पैकेज

दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल के विद्यार्थी एवं एक किसान के बेटे अवनीश छिक्कारा बचपन से ही बहुत मेहनती रहे हैं| उन्होंने अपनी पढ़ाई में कभी भी किसी भी तरह की कमी नहीं आने दी, और हमेशा पूरे मन और लगन से पढ़ाई की| यह अवनीश की कड़ी मेहनत का ही कमल है, की आज उनका अथक परिश्रम रंग लाया है|

डीसीआरयूएसटी के इलेक्ट्रॉनिक्स के विद्यार्थी अवनीश छिक्कारा को अमेजॉन में 67 लाख रुपये का पैकेज मिला है। इस कंपनी में उनके चयन के बाद से सभी बहुत खुश हैं वा विश्विद्यालय के कुलपति प्रो. अनायत ने इस सफलता के लिए उन्हें आशीर्वाद दिया है|

एक साल बाद एक करोड़ का हो जाएगा पैकेज

अवनीश के घर की आर्थिक स्तिथि अच्छी नहीं थी| उन्होंने अपने बचपन में बहुत गरीबी के दिन देखे हैं| उनके पिता एक किसान थे, और परिवार के भरण पोषण के लिए वहां भी चलाते थे| अवनीश जानते थे की ये दुःख के बादल वो खूब पढ़ लिखकर ही दूर कर सकते हैं, इसीलिए वे प्रतिदिन अल सुबह 2 से 8 बजे तक पढ़ते थे| उसके बाद विश्वविद्यालय की प्रयोगशाला में प्रयोग के बाद खाली समय मिलता तो वह अपना अध्ययन प्रारंभ कर देते। अवनीश ने प्रतिदिन 10 घंटे पढ़ाई कर यह सफलता हासिल की है।

अवनीश को अमेज़न ने 67 लाख रुपये का पैकेज दिया है, ठीक एक वर्ष बाद यह पैकेज लगभग एक करोड़ रुपये का हो जायेगा। यह अवनीश का कठिन परिश्रम ही है, जिसने आज उनको सपनों को साकार कर दिया है, और उन्हें सफल बना दिया है|

Leave a comment

Your email address will not be published.