मेरठ की महिला ने मोहब्बत में सारी हदें कीं पार, प्रेमी के लिए तीन पतियों से हुआ तलाक, अब इस जिद पर अड़ी

उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक महिला ने मोहब्बत में सारी हदें पार कर दीं। महिला के परिजनों ने उसकी तीन लोगों से शादी कराई, लेकिन प्रेम संबंधों की जानकारी लगते ही उसके तीनों पतियों ने उसे तलाक दे दिया। चौथी बार महिला प्रेमी से शादी करना चाहती थी, लेकिन मामला बिगड़ गया।

बुधवार को महिला अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंची और पुलिस को पूरा मामला बताया। पुलिस भी महिला की बातें सुनकर हैरत में पड़ गई। वहीं महिला दोपहर तक थाने में बैठी रही और जिद करने लगी कि या तो उसकी प्रेमी से शादी कराओ अन्यथा उसे जेल भेज दो। आगे विस्तार से जानें आखिर क्या है पूरा मामला –

जानकारी के अनुसार मेडिकल थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने पुलिस में शिकायत करते हुए बताया की आठ साल पहले उसकी शादी बाबू पुत्र फुरकान निवासी सलाई, थाना हापुड़ से हुई थी। उससे उसकी सात वर्ष की एक बेटी है। किसी कारणवश महिला का पति से तलाक हो गया और महिला ने करीब छह वर्ष पहले दूसरी शादी नदीम पुत्र सलीम निवासी मेरठ से कर ली, जिससे एक बेटा ईमान लगभग साढ़े 4 वर्ष का है।

महिला ने बताया कि इसी दौरान पति का रिश्तेदार शहजाद उसके घर पर आता-जाता था, जिससे उसकी दोस्ती हो गई्र। पति को जब दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग की जानकारी हुई, तो उसने कहा कि दोनों शादी कर लो, मैं तुम्हें छोड़कर चला जाउंगा। इसके बाद  दूसरे पति ने भी महिला को तलाक दे दिया।

महिला ने बताया कि पति से तलाक के बाद प्रेमी शहजाद से भी उसने प्रेम संबंध खत्म कर वाहिद पुत्र निजाम, निवासी हापुड़ से शादी कर ली, लेकिन शहजाद ने उसका पीछा यहां भी नहीं छोड़ा और कहा कि वह उसे वहां नहीं रहने देगा। महिला के प्रेम संबंधों की जानकारी लगने पर तीसरे पति ने भी उसे तलाक दे दिया।

महिला का कहना है तीसरा तलाक होने के बाद प्रेमी शहजाद से शादी करने की बात कही, तो उसने इनकार कर दिया। महिला का आरोप है कि शहजाद ने उसकी अश्लील वीडियो बना ली और अब वह उसे ब्लैकमेल कर रहा है। बुधवार को महिला शिकायत लेकर थाने पहुंची जहां उसने कहा कि या तो वे आरोपी प्रेमी से उसकी शादी करा दें या फिर उसे ही जेल भेज दें।

महिला की पूरी कहानी सुनकर एक बार तो महिला पुलिसकर्मियों ने भी माथा पकड़ लिया, लेकिन पूरा मामला सुनने के बाद पुलिस ने महिला को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर घर जाने को कहा लेकिन वह थाने में ही बैठी रही। वहीं ये मामला चर्चा का विषय बन गया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *